नित निशा, अकेले में

प्रेमी मन, हास् चेहरे में

रंगी यादें, अंधेरे में

निद्रा उड़े, पूरे पेहरे में

सुन्दर काया, प्रेम की माया

स्वर्गानुभूति, स्वप्न सवेरे में।

चित्र : Photo by Adi Goldstein on Unsplash